गुरुवार, 11 अगस्त 2016

कुटेव ही तो है.!

कुटेव ही तो है
=======
एक खूबसूरत ख्याल का पीछा करते हुए
मैं एक नदी के पास गया,
हाँ नदी ही तो थी
जिसे मैं औरत में
बदलना चाहता था
पर्यावरण कानून में इजाजत नहीं है
यह मुमकिन नहीं हुआ

अच्छा है कि मुमकिन नहीं है
औरत को आग में
या नदी को औरत में

बदलना; बदलाव
जनादेश का
जनादेश को खूबसूरत ख्याल में
बदलने की इजाजत नहीं देता

क्या गजब बदलाव की सहूलियत मिलते ही घोषणापत्र बदल दिया!

खूबसूरत ख्याल का पीछा करना मेरा कुटेव है
कुटेव यह कि
अपनी इच्छा को
सब की इच्छा बताकर
बात को आगे बढ़ाना कुटेव ही तो है

एक टिप्पणी भेजें