दुनिया तो बस, दुनिया है!

सुख दुख बांट लेना थोड़ा हँस लेना थोडा रो लेना थोडा उदास होना थोडा खुश हो लेना साथ-साथ और भरोसे के साथ। दोस्त को उतना ही कोई जानता है जितना कि अपने ख्वाब को। उतना जितना दिल में होता है। हाँ, मेरे हमसफर! बहुत दूर लेकिन बहुत पास - - - आभासी दुनिया है और बहुत पास लेकिन बहुत दूर--- तथाकथित वास्तविक दुनिया है। दुनिया तो बस, दुनिया है!
एक टिप्पणी भेजें